Accountant कैसे बने

Accountant कैसे बने, काम योग्यता सैलरी व् अनुभव

इस पेज पर Accountant कैसे बने जानकारी शेयर की गई है।

आप इस पेज को पूरा पढ़ें क्योकि इस पेज पर एक अकाउंटेंट के काम, योग्यता, सैलरी और अनुभव के आधार पर पूरी जानकारी शेयर की गई है।

जैसे की आप लोग जानते है एक अकाउंटेंट बनने के लिए बारवीं पास या बीकॉम होना बहुत जरुरी है। यदि आप नये या फ्रेशर है तो अकाउंट लाइन में अपना भविष्य बनाने की सोच रहे है तो एक दम सही सोच रहे है।

पढ़ाई पूरी कर लेने के बाद हर नवयुवक का सपना होता है की वह अपने भविष्य को उज्जवल बना सकें।

इसलिए नवयुवक अपने कैरियर के प्रयास में कही न कही लगे रहते है। इसमें कोई सफल होते है और कोई असफल होते है। यदि आप अकाउंट डिपार्टमेंट में अपना भविष्य बनाना चाहते है तो मैंने ये पोस्ट आपके लिए लिखा है।

आज के समय में अकाउंट लाइन एक अच्छा प्लेटफार्म बन गया है, जिसमे करियर ग्राफ तेजी से बढ़ता है। यदि आप एकाउंटिंग लाइन में सर्वसम्पन एक्सपर्ट है तो तरक्की और लोकप्रियता आपके पीछे भागती है।

अब जानते है अकाउंटेंट बनने के लिए किन चीजों की आवश्यकता होती है।

Accountant के लिए योग्यता :

  • Account के क्षेत्र में अपना भविष्य बनाने के लिए किसी मान्यता प्राप्त विश्वविध्यालय से बीकॉम की डिग्री से पास होना जरुरी है साथ ही कम्प्यूटर का एक अच्छा नॉलेज होना चाहिये।

अकाउंटेंट के क्षेत्र में कोर्स व फीस :

यदि आप अकाउंटेंट का कोर्स करना चाहते है तो वो आप पर निर्भर है की आप किस प्रकार का कोर्स करना चाहते है।

वैसे देखा जाये तो कोर्स बहुत सारे है फिर भी मैंने कुछ नाम दिए है –

  • Com in Accounting and Finance
  • Com in Accounting & Commerce
  • Bachelor of Commerce in Accountancy
  •  Accounting & Taxation
  • BBA in Accounting & Finance

ये कोर्स करने के लिए प्रति सालाना दस हजार से पच्चीस हजार तक खर्चा हो सकता है। और ध्यान दें अकाउंटेंट का कोर्स तीन साल का होता है ये कोर्स बी.कॉम करने के बाद कर सकते है ।

एक Accountant बनने के बाद आप कहाँ – कहाँ काम कर सकते है ? 

देखिये मेरे अनुसार यदि आप एक परफेक्ट अकाउंटेंट बन जाते है तो आप बहुत सी जगह पर काम कर सकते है जैसे –

  • मैनेजमेंट एकाउंटिंग
  • फाइनेंसियल एकाउंटिंग
  • ऑडिट
  • GST, टैक्स
  • पब्लिक एकाउंटिंग
  • टैली एकाउंटिंग आदि

अकाउंटेंट के लिए आयु सीमा :

  • एक Accountant बनने के लिए आयु 21 वर्ष से 40 वर्ष के बीच होना चाहिये।

अकाउंटेंट के लिए चयन :

  • Accountant पद के चयन के लिए शैक्षिणक रिकॉर्ड, लिखित परीक्षा और इंटरव्यू के आधार पर किया जाता है।

अकाउंटेंट की सैलरी :

  • अकाउंटेंट की सैलरी अलग-अगल कम्पनी में गतिविधि भौगोलिक स्तिथि के आधार पर अलग- अलग होता है। बहुत सारे कम्पनी में Accountant का वेतन 25000 हजार से 40000 प्रतिमाह दिया जाता है।
  • इसके अलावा बड़ी कम्पनीयों में अकाउंटेंट का वेतन उसके योग्यता, कार्य कौशल,अनुभव के आधार पर पचास हजार से साठ हजार तक प्रतिमाह मिल जाता है।

अकाउंटेंट के लिए पर्सनल योग्यता :

अकाउंट क्षेत्र में कामयाबी पाने के साथ कुछ पर्सनल योग्यता भी होना चाहिए जैसे –

  • अकाउंटेंट पोस्ट के लिए शरीर से ठीक – ठाक होना चाहिए।
  • अकाउंटेंट के लिए ईमानदार होना जरुरी है।
  • इस क्षेत्र में अपना भविष्य बनाने के लिए दो साल का अनुभव होना चाहिए।
  • साथ में कंप्यूटर का नौलेज होना बहुत जरुरी है जैसे- Excel, Win word, PowerPoint, Outlook, Internet इत्यादि।
  • Tally software के बारें में जानकारी एवं चलाना आना चाहिए।
  • भरोसेमंद होना चाहिए निर्देशों का पालन करने में सक्षम होना चाहिए, प्रबंधन की दिशा का जवाब देना चाहिए और प्रबंधन प्रतिक्रिया के माध्यम से प्रदर्शन में सुधार करने में सक्षम होना चाहिए।

अकाउंटेंट के काम :

एक अकाउंटेंट का काम किसी भी कम्पनी में प्रति दिन का ट्रांज़ैक्शन जैसे – Sale, Purchase, Billing, tally, पार्टी की GST Return और साथ में बैलेंस शीट को अपडेट करना होता है।

में अपने अनुभव के आधार पर आपको अपना काम का अनुभव शेयर कर रहा हूँ

इसको जरूर पढ़ें और फॉलो करें –

  • कम्पनी में सेल्स व् परचेस का रिकॉर्ड बनाना या रखना।
  • महीने के अंत या Per Day के अनुसार Bill क्रिएट करना।
  • टैली पर एकाउंट्स का काम अपडेट करना
  • GST Return फाइल को प्रॉपर अपडेट रखना।
  • Payroll पर सैलरी प्रॉसेस करना।
  • कर्मचारी यदि कंपनी से एडवांस या अन्य पैसे का लेन देन करता है तो उसका रिकॉर्ड प्रॉपर अपने कंप्यूटर में अपडेट करना।
  • एम्प्लोयी की सैलरी पांच से सात तारीख तक बना के तैयार करना।
  • कर्मचारी का Wages शीट तैयार करना।
  • बैंक से किये गए लेन – देन का प्रॉपर रिकॉर्ड रखना।
  • कम्पनी का बैलेंस शीट एवं Financial statement report तैयार करना।
  • प्रॉफिट एवं नुकसान की जानकारी रखना।

अकाउंट के किन क्षेत्र में अपना भविष्य बना सकते है ?

देखिये यदि अपने अकाउंटेंट बनने का ठान लिया है तो आप अकाउंट लाइन में काफी आगे तक जा सकते है जैसे –

  • Junior Accountant
  • Accountant
  • Senior Accountant
  • Finance Managers
  • Financial Advisors
  • Certified Public Accountant
  • Chief Financial Officer
  • Financial Director

मेरी अकाउंटेंट बनने की कहानी  :

आज मेरा मन हुआ की आपको अकाउंटेंट बनने की कहानी शेयर करूँ।

इसलिए मैंने अकाउंटेंट कैसे बने पर पोस्ट लिखा है ताकि आपको कुछ हेल्प और मोटिवेट मिल सके।

Hi, हेल्लो मेरा नाम शिव है और में उत्तराखंड से हूँ।

आज में आपको अपना अकाउंटेंट बनने की कहानी शेयर कर रहा हूँ इसको जरूर पढ़ें।

इससे पहले मैंने किसी भी कंपनी में काम नहीं किया था और हमेशा यही सोचना था की क्या में कभी बीकॉम करने के बाद अकाउंटेंट लाइन जॉब कर पाउँगा या नहीं, उस समय घर की आर्थिक स्थिति भी ठीक नहीं थी।

ठीक – ठाक पढाई होने के बाबजूद भी अकाउंट डिपार्टमेन्ट में क्या काम होता है इसकी जानकारी मुझे बिलकुल भी ना थी।

उत्तराखंड से हेमवती नंदन बहुगुणा यूनिवर्सिटी से बीकॉम करने के बाद विचार आया।

दिल्ली में जाकर किसी बड़ी कंपनी में जॉब करके अपनी आर्थिक स्थिति सही करते है कुछ दिन बाद दिल्ली भी आ गए अब आगे क्या करना है कुछ समझ में नहीं आ रहा था कुछ दिन ऐसे ही निकल गए।

क्योंकि में एक फ्रेशर था मुझे एकाउंटिंग के बारें में कुछ भी जानकारी नहीं थी, और कही नौकरी भी नहीं मिल रही थी एक जगह नौकरी तो मिल गई पर दो से दिन सप्ताह काम करने के बाद मुझे नौकरी से निकाल दिया गया,

क्योकि मेरे पास अकाउंट के क्षेत्र में कोई अनुभव नहीं था।

क्योकिं में एक गांव से हूँ यदि आप भी गांव से है तो आपको अच्छी तरह मालूम होगा।

आज भी बहुत कम लोगो के पास कंप्यूटर है। जिससे हम जैसे लोग ठीक से कंप्यूटर नहीं सिख पाते और अपने सपने को पूरा करने के लिए दिल्ली जैसे शहर में निकल पड़ते है।

हिम्मत न हारें 

दोस्तों फिर मैंने हिम्मत नहीं हारी रात में नौ महीने तक सिक्योरिटी गार्ड की नौकरी की और दिन में कंप्यूटर क्लास ज्वाइन किया जो बारह महीने का था।

कंप्यूटर सिखने के बाद नोएडा में स्थित एरियन मेटल लिमिटेड कंपनी में अकाउंट असिस्टेंट के पद पर जोइनिंग किया। एज ए फ्रेशर के तोर पर, धीरे-धीरे काम सीखता गया और काम का अनुभव भी होने लगा।

ऑफिस में बहुत सारे अच्छे स्टाफ भी मिले और कुछ टांग खींचने वाले भी मिले, फिर भी मैनें हिम्मत नहीं हारी लगातार कम सैलरी में दो साल तक अकाउंट डिपार्टमेंट में काम किया।

धीरे – धीरे मुझे इस लाइन में काम का अनुभव भी होने लगा।

आज मुझे अकाउंटेंट लाइन में एक अच्छा अनुभव हो गया है और पिछले तीन – चार साल से अकाउंट डिपार्टमेंट में काम कर रहा हूँ आज मुझे हर माह 35000 हजार सैलरी मिल रही है।

ये कहानी बताने का मुख्य उद्देश्य आपको मोटीवेट करना और समझाना है।

ताकि आप भी हिम्मत ना हारें जीवन में उतार – चढ़ाव आते रहते है और मन लगा के शुरू में कम सैलरी में काम सीखें।

फिर कोई अच्छी कंपनी में ज्वाइन करें।

 

Accountant

एक दिन आपको सफलता जरूर मिलेगी ।

इन्हे भी पढ़ें :

अंतिम लाइन 

आशा करता हूँ की आपको Accountant कैसे बने की जानकारी सही लगी होगी।

यदि सही लगे तो अपने दोस्तों में शेयर जरूर करें।

इस आर्टिकल से सम्बन्धित कुछ जानकारी चाहिए तो नीचे कमेंट बॉक्स में अपना कमेंट जरूर लिखें।

धन्यवाद

admin

नमस्कार दोस्तों मेरा नाम शिव है Help Guide India ब्लॉग पर आपका स्वागत है यहाँ पर आपको Employee Help, Study, Internet, Technical, Computer नॉलेज से सम्बन्धित सभी जानकारी हिंदी भाषा मिलेंगी, Help Guide India वेबसाइट का एक ही मकसद है, आपकी मदत करने में आपकी मदत करता है इसलिए इस Hindi Blog से जुड़े रहने के लिए हमारे यूट्यूब चैनल व फेसबुक को फॉलो करें ।

4 thoughts on “Accountant कैसे बने, काम योग्यता सैलरी व् अनुभव

  1. Sir Apne Bahut badiya tarike se hame samjhya hai jisse hame motivate ke sath Accoutant kaise bane aur ak accountant ke kya kam ho sakte eski jankari bhi mili thanku .

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Scroll to top
error: Content is protected !!