स्टेनोग्राफर क्या है? योग्यता, सैलरी, अनुभव व् शिक्षा

स्टेनोग्राफर क्या है

इस पेज पर आप स्टेनोग्राफर क्या है की समस्त जानकारी पढ़ने वाले हैं तो इस आर्टिकल को पूरा जरूर पढ़िए।

इससे पहले हमने कंप्यूटर ऑपरेटर कैसे बनें जानकारी शेयर की थी लिंक पर क्लिक करें।

स्टेनोग्राफर क्या है?

स्टेनोग्राफी हिंदी में आशुलिपि कहा जाता है यह ऐसी कला / भाषा है जिसकी मदद से हम कोई भी बात को कम समय में और जल्दी लिख सकते हैं।

स्टेनोग्राफी बहुत अच्छा सब्जेक्ट है जिससे हम अपना करियर बना सकते हैं।

स्टेनोग्राफर अधिकतर तो सरकार नौकरी होती है लेकिन कुछ प्राइवेट कंपनियों में भी इनकी जरूरत होती है। पहले समय पर टाइपराइटर का इस्तेमाल किया जाता था लेकिन अब कंप्यूटर का उपयोग बहुत सी जगह पर किया जाता है।

स्टेनोग्राफी ऐसे लैंग्वेज है जिसे कोई आम व्यक्ति पढ़ या लिख नहीं सकता इसको कोडिंग लैंग्वेज भी कहते हैं। स्टेनोग्राफर का काम बोलती हुई बातों को जल्दी से जल्दी लिखने का होता है।

उदाहरण के लिए अगर कोई व्यक्ति अखबार की कंपनी में काम करता है और किसी व्यक्ति का इंटरव्यू चल रहा है तो हमारा काम या आपका काम यह होगा कि जो शब्द बोले जा रहे हैं उसे लिखना होता है।

अगर कोई सामान्य व्यक्ति इसी काम करता है तो अधिक टाइम लगेगा इसकी वजह से इंटरव्यू में बहुत ज्यादा परेशानी होगी इसके लिए स्टेनोग्राफर की जरूरत होती है।

स्टेनोग्राफर की योग्यता क्या होती है?

स्टेनोग्राफर बनने के लिए आपको स्टेनो लैंग्वेज के बारे में नॉलेज होनी चाहिए बारवी पास होना जरूरी है। एसएससी स्टेनोग्राफर के लिए अप्लाई करते हैं तो उसके लिए आपके पास ग्रेजुएट होना चाहिए।उम्मीदवार की आयु 18 से 27 वर्ष की होनी चाहिए।

आपको स्टेनो टाइपिंग आनी चाहिए और उसकी स्पीड पर मिनट पर 80 वर्ड होनी चाहिए ।

स्टेनोग्राफर की तैयारी :

अगर आप गवर्नमेंट जॉब की तैयारी कर रहे हैं तो इसके लिए सबसे पहले आपको एप्लीकेशन फॉर्म भरना होगा।

एप्लीकेशन फॉर्म भरने के बाद आपका सीबीटी एक्जाम होगा उसमें पास होने के बाद आपका स्टेनो टाइपिंग टेस्ट होगा और उसके बाद आप स्टेनोग्राफर पद के लिए नियुक्त होंगे।

अब आप यह सोच रहे होंगे कि सीबीटी एक्जाम में क्या आता है?

सीबीटी एग्जाम में 200 प्रश्न आते हैं जिसमें से 100 इंग्लिश के होते हैं और 50 जीएस और 50 रिजनिंग के होते हैं।

Stenographer की तैयारी कैसे करनी चाहिए?

बहुत से लोगों का यह सवाल होता है कि आईटीआई करने के बाद भी हमारी स्पीड 80 कि नहीं हुई है या उससे कम है तो उसके लिए हमें क्या करना चाहिए हमें इंस्टिट्यूट में दाखिला लेना चाहिए जहां पर आपकी स्पीड बढ़ाई जाएगी। स्टेनो के साथ सीबीटी एक्जाम की तैयारी की जाए।

Stenographer सैलेरी कितनी होती है।

वैसे तो बहुत कम लोग होते हैं जो अच्छे से स्टेनोग्राफर बन पाते हैं इसके लिए आपको बहुत अधिक मेहनत करनी होगी।

स्टेनोग्राफर की सैलरी सरकारी और प्राइवेट कंपनियों में अलग-अलग होती है ग्रेट के अनुसार।

स्टेनोग्राफर की सैलरी 5200 से 20200(लगभग) के बीच में होती है।

Stenographer की फीस :

स्टेनोग्राफर की यदि हम फीस की बात करें तो यह कोर्स करने के लिए बीस हजार से पच्चीस हजार तक लग सकता है लेकिन यह सब इंसीट्यूटे पर निर्भर करता है की इंसीट्यूट की मान्यता और लोकेशन क्या है।

आयु सीमा :

यहाँ आप हम स्टेनोग्राफर में अपना भविष्य बनाना चाहते है तो कम से कम अठारह साल से ऊपर और पच्चीस साल से निचे तक होना जरुरी है।

शिक्षा :

Stenographer के लिए हाई स्कूल या इंटरमीडिएट होना जरुरी है, इसके साथ कंप्यूटर की जानकारी व् हिंदी भाषा का अच्छा ज्ञान होना चाहिए ।

स्टेनोग्राफर के लिए टाइपिंग स्पीड कितना होना चाहिए ?

स्टेनोग्राफर के लिए कम से कम 55 wpm से 60 तक होना चाहिए, इससे कम नहीं होना चाहिए, यदि इससे ज्यादा है तो आपके भविष्य के लिए सर्वोपरि है आप आसानी से स्टेनोग्राफर जॉब कर सकते है।

इन्हे भी पढ़ें :

इन्हे भी पढ़ें :

आशा करता हूँ की आपको स्टेनोग्राफर क्या है की जानकारी सही लगी होगी।

यदि सही लगे तो अपने दोस्तों में शेयर करें।

कोई प्रश्न है तो हमें कमेंट करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to top
error: Content is protected !!