Mouse क्या है, कार्य, भाग, प्रकार, निर्मित व समस्त जानकारी

mouse

इस पोस्ट द्वारा कंप्यूटर में इस्तेमाल होने वाला इनपुट डिवाइस Mouse के बारे में जानकारी प्राप्त करेंगे।

क्योंकी इसके बारे में जानना बहुत ही ज़रूरी है।

माउस क्या है ?

माउस एक प्रकार का इनपुट डिवाइस है जिसके ज़रिए कंप्यूटर में स्क्रीन के पॉइटर को कन्ट्रोल किया जाता है जिसे हम कर्सर भी कहते हैं।

इस पॉइंटर के उपयोग से कंप्यूटर में मोजूद फाइल और अन्य सभी को खोलने बंद करने में इस्तेमाल किया जाता है इसको पॉइंटिन डिवाइस भी कहा जाता है।

माउस कंप्यूटर और यूज़र के बीच इन्टर फेस का कार्य करता है।

Mouse के कितने पार्ट होते हैं ?

माउस में पार्ट की बात करें तो इसमें पहले स्थान पर बटन आती है यह बटन दो तरफ से होती हैं जो दांए और बाएं होती है।

  • दूसरा पार्ट है वील इसका इस्तेमाल कंप्यूटर में पेज को ऊपर नीचे करने में उपयोग होता है।
  • Mouse का तीसरा भाग है बॉल, LED या लेजर इसको अलग अलग टाइप्स में बॉल या लेजर का स्तेमाल किया जाता है जिसे हम मैकेनिकल माउस भी कहते हैं इन दोनों और LED की वजह से माउस को स्क्रॉल किया जा सकता है।
  • Mouse का तीसरा पार्ट सर्किट बोर्ड हे जो माउस के अंदर होता है वह माउस के द्वारा कंप्यूटर में होने वाले क्लिक को सर्किट द्वारा कंप्यूटर में इनपुट करता है।

माउस को किसने निर्मित किया था ?

दुनिया का सबसे पहला माउस 1963 में डगलस सी एंग्लबर्ड ने किया था।

माउस कितने प्रकार के होते हैं ?

माउस को पांच प्रकार के होते हैं-

  1. मैकेनिकल माउस
  2. ऑप्टिकल माउस
  3. वायरलेस माउस
  4. ट्रेकबॉल माउस
  5. स्टाइल्स माउस

इन पांचो प्रकार को विस्तार से समझते है।

  • मैकेनिकल माउस क्या है?

मैकेनिकल माउस का निर्माण 1972 में किया गया था मैकेनिकल माउस इंटरेक्शन के लिए बॉल का उपयोग करता है जिस वजह से इसे बॉल माउस भी कहते हैं इस बॉल को दांए बाएं ऊपर नीचे घुमाया जा सकता है।

  • ऑप्टिकल माउस क्या है ?

ऑप्टिकल माउस LED Digital Signal प्रोसेसिंग पर कार्य करता है इस माउस में बॉल न होकर बल्ब का इस्तेमाल किया गया है इसलिए माउस को हिलाने पर फॉलियंटर हिलता है इसमें मौजूद बटन के द्वारा हम कंप्यूटर को इंटरेक्शन देते हैं।

  • वायरलेस माउस क्या है ?

यह बिना तार के माउस होते हैं इन्हें कोर्लेस माउस भी कहते हैं।

इस प्रकार के माउस रेडियो फिक्वेंसी तकनीक पर विकसित होता है। इसका इस्तेमाल करने के लिए ट्रांस मीटर और रिसीवर की जरूरत होती है ट्रांस मीटर तो माउस में होता है परंतु रिसीवर को अलग से कंप्यूटर में लगाया जाता है इस माउस को चलाने के लिए बैट्री की जरूरत होती है।

  • ट्रेकबॉल माउस क्या है ?

ट्रेकबॉल माउस बिल्कुल ऑप्टिकल माउस की तरह दिखाई देती है पर इसको नियंत्रण करने के लिए ट्रेकबॉल का उपयोग किया जाता है इस माउस को चलाने के लिए यूजर को आपनी उंगली और अंगूठा का उपयोग करना होता है यह अन्य के मुताबिक कम कंट्रोल देता है।

  • स्टाइल्स माउस क्या है ?

स्टाइल्स माउस को जीस्टिक माउस भी कहते हैं क्योंकी स्टाइल्स माउस का निर्माण गॉर्डन स्टो वार्ट ने किया था।

यह दिखने में पेन की तरह होता है और इसमें एक पहिया भी रहता है। इसका इस्तेमाल टच स्क्रीन जैसे डिवाइस में उपयोग होता है।

माउस के कार्य :

  • माउस का प्रथम कार्य प्वाइंटिंग होता है जैसे बनी हुई किसी फाइल को चौकोर आकार बॉक्स में प्वाइंट करता है।
  • Mouse का दूसरा कार्य सेलेक्ट करना होता है जो फाइल पर लेफ्ट क्लिक करते ही यह सेलेक्ट कर लेता है।
  • माउस का तीसरा कार्य क्लिक करना होता है यह दो प्रकार के क्लिक होते हैं राइट क्लिक और लेफ्ट क्लिक माउस के कुछ मेहूतवपूर्ण कार्य।
  • माउस द्वारा फाइल को ड्रैग भी कर सकते है।

इन्हे भी पढ़ें :

आशा करता हूँ की आपको हमारे द्वारा दी गई Mouse की जानकारी सही लगी होगी।

यदि सही लगे तो दोस्तों को भेजें।

हमारे साथ बनें रहने के लिए हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to top
error: Content is protected !!