Hardware क्या होता हैं ? इसके प्रकार व् समस्त उदाहरण

Hardware

क्या आप Hardware के बारे में जानते है ?

यदि नही तो हम आपको इस पेज के माध्यम से हार्डवेयर से सम्बन्धित सभी प्रकार की जानकारी उपलब्ध कराएंगे।

जिसके माध्यम से आपको हार्डवेयर की जानकारी के साथ-साथ आप एक हार्डवेयर इंजीनियर कैसे बन सकते हैं आप इसका भी इस पेज के माध्यम से पता लगा सकते है। जो आपके आने वाले फ्यूचर के लिए बहुत ही मददगार हो सकता है।

हार्डवेयर को हिन्दी में क्या कहते है ?

हार्डवेयर को हिंदी में भौतिक भाग के नाम से भी जाना जाता है।

Hardware क्या होता हैं ?

हार्डवेयर एक सामान्य शब्द है जो कंप्यूटर प्रणाली के किसी भी घटक अर्थात कंप्यूटर कंपोनेंट्स की उपस्थिति का वर्णन करने के लिए उपयोग किया जाता है जिसको हम, देख, छू और इस्तेमाल कर सकें उसे हार्डवेयर कहा जाता है हार्डवेयर के माध्यम से कई महत्वपूर्ण कार्य किए जाते हैं और यह विभिन्न कार्य को करने मे अपना योगदान प्रदान करता हैं इसी तरह के डिवाइस को हार्डवेयर के नाम से जाना जाता है।

हार्डवेयर के प्रकार:

अगर हम हार्डवेयर के प्रकार की बात करें तो हार्डवेयर के कुल 4 प्रकार होते हैं जिनके बारे में हम विस्तार से चर्चा करेंगे।

इनपुट डिवाइस :

इनपुट डिवाइस एक हार्डवेयर डिवाइस होता है जो यूजर्स से इंफॉर्मेशन स्वीकार करते हैं।

और इंफॉर्मेशन को इलेक्ट्रॉनिक सिग्नल में रूपांतरित करता है और उसके बाद प्रोसेसर को संचालित करता है तथा इनपुट डिवाइस का मुख्य कार्य यूजर को कंप्यूटर के साथ इंटरेक्शन करवाना होता है।

उदाहरण के लिए – अगर आप कंप्यूटर जैसे इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस पर किसी प्रकार की गेम खेलते हैं तो उस दौरान माउस की सहायता से आप उसे कंट्रोल कर पाते हैं इनपुट डिवाइस के उदाहरण- ट्रैकबॉल,टचपैड, माइक्रोफोन,कीबोर्ड, सेंसर, जॉयस्टिक आदि इनपुट डिवाइस है।

आउटपुट डिवाइस :

आउटपुट डिवाइस कंप्यूटर सिस्टम से इंफॉर्मेशन लेता है तथा ऐसे रूप में परिवर्तन करता है जिसको मनुष्य द्वारा आसानी से समझा जा सकता है उदाहरण के लिए मॉनिटर यूजर के लिए प्रोसेस के द्वारा प्रोसेस की गई इंफॉर्मेशन को विजुअल डिस्प्ले द्वारा दिखाता है इस प्रकार आउटपुट डिवाइस कंप्यूटर में हुए कार्य को प्रिंटर द्वारा प्रिंट करके उपलब्ध कराता हैं आउटपुट डिवाइस के उदाहरण-मॉनिटर प्रिंटर, हेड फोन, टच स्क्रीन, प्रोजेक्टर इत्यादि।

प्रोसेसिंग डिवाइस :

अब बात करते हैं प्रोसेसिंग डिवाइस प्रोसेसिंग डिवाइस एक ऐसा डिवाइस होता है जिनके द्वारा डाटा को प्रोसेस किया जाता है तथा कंप्यूटर के अंदर इंफॉर्मेशन के लिए प्रोसेसिंग डिवाइस जिम्मेदार होता है और यह एक ऐसा कंपोनेंट है जो प्रोसेसिंग के कार्य में उपयोगी होता हैं उदाहरण के लिए- सीपीयू ,मेमोरी और मदरबोर्ड डिवाइस आदि शामिल होते हैं‌।

स्टोरेज डिवाइस :

यह एक ऐसा डिवाइस होता है जो कंप्यूटर के अंदर डाटा को संग्रहित करने के लिए जिम्मेदार होता है इनमें हार्ड डिस्क ड्राइव, कॉम्पैक्ट डिस्क ड्राइव शामिल है।

स्टोरेज डिवाइस के उदाहरण- एसएसडी,‍ सीडी, डीवीडी, हार्ड डिस्क, मेमोरी कार्ड, पेन ड्राइव आदि स्टोरेज डिवाइस के उदाहरण है।

कंप्यूटर हार्डवेयर इंजीनियर बनने के लिए प्राप्त स्किल्स:

  • आपका 12वीं कक्षा अच्छे अंको से पास होना।
  • कंप्यूटर जगत से जुड़ी सभी जानकारी होना।
  • डिप्लोमा या डिग्री कोर्स के माध्यम से आप एक कुशल हार्डवेयर इंजीनियर बन सकते हैं।
  • आपकी अंग्रेजी भाषा में बहुत अच्छी पकड़ होना आवश्यक है।

हार्डवेयर इंजीनियर कोर्स की अवधि:

यदि हम हार्डवेयर इंजीनियर कोर्स करने की अवधि के बारे में बात करें तो 12वीं कक्षा के बाद आप 1 से 2 साल का डिप्लोमा या डिप्लोमा कोर्स कर सकते हैं जिसके माध्यम से आप एक Hardware इंजीनियर की पोस्ट प्राप्त कर पाएंगे।

हार्डवेयर इंजीनियर की सैलरी:

अगर आप फ्रेशर हार्डवेयर इंजीनियर है तो आपकी मासिक आय 30 से 35 हजार रुपए होती है यदि आप एक कुशल हार्डवेयर इंजीनियर ‌है और आप मल्टीनेशनल कंपनी में हार्डवेयर इंजीनियर के पोस्ट पर कार्यरत है तो की मंथली आय लगभग पांच से दस लाख रुपए होती है।

इन्हे भी पढ़ें :

अंतिम शब्द :

आशा करता हूँ की Hardware इंजीनियर से जुड़ी जानकारी आपको पसंद आई होगी और हार्डवेयर से जुड़ी जानकारी आपको एक कुशल हार्डवेयर इंजीनियर बनने में सहायता प्रदान करेंगी।

हमारे साथ जुड़ने के लिए हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।
धन्यवाद।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to top
error: Content is protected !!