computer virus

Computer Virus क्या है, लक्षण एवं उपाय

यदि आप कंप्यूटर चलाना जानते है तो आपको Computer Virus क्या होता है इसकी जानकारी भी होनी चाहियें।

जिससे कंप्यूटर में होने वाले नुकसान से बचा जा सकें।

मैं आपको कंप्यूटर वायरस के बारें में इसलिए बता रहा हूँ क्योकिं में पिछले पांच सालों से HR डिपार्टमेंट में काम कर रहा हूँ और इस बीच में कंप्यूटर में कंप्यूटर वायरस से क्या नुकसान हो सकता है समझ सकता हूँ।

इसलिए मैंने आज आपके लिए ये पोस्ट लिखा है ताकि आप समझ सकें कंप्यूटर में वायरस क्या होता है और इस वायरस से कंप्यूटर को कैसे सुरक्षित रख सकते है।

इससे पहले हमने कम्प्यूटर में Spam क्या होता है जानकारी शेयर की थी आप इस लिंक पर क्लिक करके पढ़ें :

Computer Virus क्या है ?

यह एक छोटा सा द्वेषपूर्ण सॉफ्टवेयर प्रोग्राम होता है जो किसी अन्य प्रोग्राम के साथ जुड़कर इंटरनेट के माध्यम से कंप्यूटर या मेमोरी में प्रवेश करता है और अपनी कॉपी बना कर उसे फैलने में मदत करता है।

कंप्यूटर वायरस कंप्यूटर में डाटा मिटाने, डाटा को खराब करने या उसमे परिवर्तन करने का प्रयास कर सकता है और कंप्यूटर के हार्ड डिस्ट को नुकसान एवं कंप्यूटर की गति को कम कर देता है।

कंप्यूटर में वायरस कैसे फैलता है ?

किसी भी प्रोग्राम से जुड़ा वायरस तब तक सक्रीय नहीं होता जब तक उसे किसी कंप्यूटर में चलाया न जायें ध्यान दें वायरस किसी मेल या मैसेज से नहीं फैलता बल्कि ईमेल द्वारा किया गया अटैच फाइल को खोलने पर सक्रीय हो जाता है।

और वायरस कंप्यूटर के मेमोरी में स्वयं को स्थापित कर देता है

जिससे कंप्यूटर स्लो या कंप्यूटर की कुछ फाइलें करप्ट हो जाती है जिससे कंप्यूटर में काफी नुकसान हो जाता है।

कंप्यूटर वायरस सामन्यतय इंटरनेट, ईमेल, गेम, फाइल, मेमोरी या पेन ड्राइव के द्वारा भी एक कंप्यूटर से दूसरे कंप्यूटर में प्रवेश करता है। यदि आप इंटरनेट से कुछ फाइल डाउनलोड करते है तो वायरस आपके कंप्यूटर में भी आ सकता है।

वायरस का कंप्यूटर पर प्रभाव  :

यदि आप कंप्यूटर चलाते है और कंप्यूटर वायरस से प्रभावित है या नहीं जानना चाहते है तो इन लक्षणों को अवश्य पहचाने।

  • वायरस कंप्यूटर को धीमा कर देता है।
  • कंप्यूटर अपने आप ही Restart होने लगता है।
  • कंप्यूटर में कुछ फाइलें ठीक से खुलती नहीं है।
  • वायरस आपके कंप्यूटर के डाटा को Corrupt कर देता है अर्थात फाइल को नुकसान पंहुचा सकता है।
  • वायरस कंप्यूटर में कार्य करने के गति को कम कर देता है।
  • इंटरनेट के माध्यम से वायरस गलत होम पेज को खोल देता है।

 कंप्यूटर को Computer Virus से कैसे बचायें ?

नेटवर्क तथा कंप्यूटर पर विभिन्न सॉफ्टवेयर वायरस के खतरों से बचने के लिए एंटी वायरस सॉफ्टवेयर का प्रयोग किया जाता है। यह एक ऐसा सॉफ्टवेयर होता है जो कंप्यूटर वायरस को पहचान करके उन्हें नष्ट कर देता है और कंप्यूटर में घुसने से पहले उन्हें रोकता है।

यदि वायरस कंप्यूटर में सक्रीय है तो आपको तुरंत सूचित भी करेगा आप उसी टाइम कंप्यूटर को समय- समय पर स्कैन करें जिससे वायरस कंप्यूटर को नुकसान न पंहुचा सकें।

कंप्यूटर में कौन से एंटीवायरस का प्रयोग करें ?

कंप्यूटर को द्वेष पूर्ण वायरस से बचाने के लिए आप नीचे दिये गये एंटीवायरस सॉफ्टवेयर का प्रयोग कर सकते है –

  • Avast
  • AVG
  • Symantec
  • McAfee
  • Nortan
  • Bit Defender
  • Kaspersky

इन एंटीवायरस सॉफ्टवेयर का प्रयोग करके अपने कंप्यूटर के डाटा, नेटवर्क एवं कंप्यूटर की फाइल को सुरक्षित रख सकते है।

इन्हे भी पढ़ें :

अंतिम शब्द :

आशा करता हूँ की आपको Computer Virus क्या होता है जानकारी सही लगी होगी।

यदि सही लगे तो अपने दोस्तों में भेजें।

इस पेज से सम्बंधित कोई प्रश्न है तो हमें कमेंट करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to top