Bar Code Reader क्या है, इसका प्रयोग कैसे करते है

Bar code reader

इस पेज पर आज हम Bar Code Reader क्या है जानेंगे और इसका प्रयोग कैसे करते है ये भी समझेंगे।

इसलिए हमने आपके लिए ये पोस्ट लिखा है ताकि आप समझ सकें।

इससे पहले हमने कंप्यूटर में स्पैम क्या होता है जानकारी शेयर की थी आप हमारे दिए हुए लिंक पर क्लिक करके पढ़ सकते है और अपने कंप्यूटर को स्पैम से बचा सकते है।

Bar Code Reader

जैसा की आपने अधिकतर बड़े मार्केट या मॉल में लोगो को देखा होगा जब वह अपना सामान लेकर काउंटर पर भुक्तान करने के लिए जाते है-

तो वहाँ पर बैठा शॉपकीपर एक छोटे से मशीन को लेकर सामान को स्कैन करता है और बस कुछ सेकंड बाद आपको सामान का बिल दे देता है।

यहाँ पर एक छोटी सी मशीन के द्वारा एक वस्तु के बार कोड पर स्कैन की प्रक्रिया को ही Bar Code Reader कहते है।

Bar Code Reader क्या है ?

बार कोड एक बहुत सारी चौड़ाई की एक काली पट्टी होती है। चौड़ाई और दो पट्टियों के बिच की दुरी में सूचनाएं निहित होती है।

इन सूचनाओं को बार कोड रीडर की साहयता से कंप्यूटर में डालकर उत्पात, वस्तु के प्रकार आदि का पता लगाया जाता है।

भारत सरकार ने 1998 से नेशनल इनफार्मेशन इंडस्ट्रियल वर्क फोर्स ने सभी उत्पादों पर बार कोड का प्रयोग जारी कर दिया है।

आजकल बार कोड का इस्तेमाल कहाँ होता है ?

आज कल बार कोड का प्रयोग सभी छोटे- बड़े दुकानों, मॉल, पोस्ट ऑफिस,  मेडिसन के दवाइयों पर, पोस्ट ऑफिस और सभी कूरियर कम्पनियाँ के पोस्ट को ट्रैक करने के लिए बार कोड का प्रयोग किया जाता है।

इसके अलावा बार कोड का प्रयोग फैक्ट्रियों में कर्मचारियों की हाजरी, स्कूल में बच्चों की हाजरी लगाने में भी बार कोड प्रयोग किया जाता है।

बार कोड रेडर का अविष्कार किसे किया था ?

सबसे पहले Bar Code Reader का प्रयोग 1940 में हुआ था

और इसका अविष्कार जोसेफ वुडलैंड और बनार्ड सिल्वर ने किया है ।

इन्हे भी पढ़ें :

अंतिम शब्द :

आशा करता हूँ की आपको Bar Code Reader क्या है जानकारी सही लगी होगी।

यदि सही लगे तो अपने दोस्तों में शेयर जरूर करें।

इस पेज सम्बन्धित कोई प्रश्न है तो हमें कमेंट करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to top
error: Content is protected !!