OTP

OTP क्या है ? OTP का Full फॉर्म, लाभ, हानि व् ओटीपी की जानकारी

आइए इस पेज के माध्यम से OTP क्या है और ओटीपी का प्रयोग कैसे करते है ये सारी बातों को समझते है।

क्योंकि आज के समय में ओटीपी के बारें में जानना आपके लिए बहुत ज़रूरी है।

इसका यह कारण है कि OTP का सन्देश कई प्रकार से हो सकते है जैसे- हैकर द्वारा हैक करने के लिए भेजा गया ओटीपी सन्देश या खुद का कोई सिक्योर पासवर्ड, ऑनलाइन फॉर्म भरना, लॉगिन करना या अन्य कार्य करते वक्त आपको ओटीपी जैसा संदेश उपलब्ध कराया जाता है।

जिसे आपको ध्यान पूर्वक दुसरो से साझा करना चाहिए क्यूंकि इसको साझा करने से आपके ओटीपी को किसी भी व्यक्ति द्वारा गलत इस्तेमाल भी किया जा सकता है जो आपको कई तरह से नुक्सान पहुँचा सकता है इसलिए आपको ओटीपी संदेश की जानकारी रखना चाहिए।

OTP क्या है?

चलिए जानते हैं ओटीपी का वह परिचय जिसे हर इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों तथा ऑनलाइन काम करने में उपयोग किया जाता है ओटीपी एकमात्र ऐसा पासवर्ड होता है जो सिर्फ एक समय में एक बार ही जनरेट होता है व एक बार में उपयोग किया जा सकता है।

क्या आप जानते है ओटीपीको वन -टाइम ऑथराइजेशन कोड से भी परिचित किया जाता है यह वह पासवर्ड है जिसकी मान्यता निम्न कार्य को पूर्ण करने तक सीमित होती है जैसे- डिजिटली लॉगिन करने में, ऑनलाइन तरह-तरह के लेन-देन आदि में इस्तेमाल किया जाता है।

OTP  की फुल फॉर्म :

OTP  को वैसे तो अलग-अलग नामों से जाना जाता है परंतु आम तोर पर इसे One Time Pin या वन टाइम पासवर्ड से सम्बोधित किया जाता है।

ओटीपी कितने अंकों का पासवर्ड होता है ?

ओटीपी एकमात्र ऐसा पासवर्ड है जो कि शब्दों में न होकर अंको में उपलब्ध कराया जाता है और यह ज़्यादातर 4 से 6 अंको में प्राप्त होता है।

आपके ई-मेल या फोन नंबर के एड्रेस पर जनरेट कराया जाता है।

यदि ओटीपीआपके नंबर पर जनरेट होता है तो वह सीधा आपके फोन पर उपलब्ध होता है, इसके उपरान्त यदि आपका ओटीपी आपके ई -मेल पर जनरेट होता है तो वह आपके फोन के अलावा उपयोग होने वाले किसी भी इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस पर उपलब्ध कराया जाता है।

4 अंक का OTP का उपयोग ?

यदि में आपको 4 अंको के ओटीपी का परिचय दूँ तो इसका इस्तेमाल डिजिटल मीडिया यानी ऐप को लॉगिन या फिर वेबसाइट को क्रिएट करने में मददगार होता है जिसकी सहायता से आप अपने वेबसाइट या ऐप का इस्तेमाल करने में सफल रहते है 4 अंक का ओटीपी उस समय प्रयोग में लाया जाता है।

6 अंक का OTP का उपयोग ?

इससे पहले वाले पैराग्राफ में 4 अंक के ओटीपी के बारे में जाना अब हम इस पैराग्राफ में 6 अंकों के ओटीपी के बारे में जानेंगे 6 अंक के ओटीपी का इस्तेमाल बैंक के कार्यों को करने के दौरान किया जाता है।

जिससे सभी कार्य सावधानी से और सफलता पूर्वक हो सके। बैंक में होने वाले कार्य डिटेल्स बैंक के कर्मचारी और बैंक के उपभोक्ता तक सीमित रह सके जिससे किसी भी प्रकार की तकलीफ न हो सके है।

OTP के इस्तेमाल करने से लाभ  :

  • ओटीपी सन्देश सिर्फ आपके दिए हुए एड्रेस पर ही जनरेट होता है।
  • यह सन्देश वन-टाइम पासवर्ड है जिसे सिर्फ एक समय के अलावा दोबारा उपयोग में नहीं लाया जा सकता।
  • एक बार इस्तेमाल होने के बाद अमान्य हो जाता है जिसके कारण इसका अन्य व्यक्ति के द्वारा गलत इस्तेमाल नहीं किया जा सकता।
  • खुद के बिना इसे जनरेट नहीं किया जा सकता है यदि आप नहीं चाहते तो इसे किसी भी हाल में एक्सेस नहीं कर सकते है।
  • ओटीपी उपयोग करने का उद्देश्य आपकी गोपनीयता को बरकरार रखते हुए कार्य को अंजाम देना है।

OTP  संदेश के नुकसान :

  • आपको ऐप का उपयोग करने में दिक्कत हो सकती है।
  • बैंक में बिना ओटीपी के ऑनलाइन ट्रांजेक्शन में रुकावट होने की सम्भावना होती है।
  • बिना ओटीपी के वेबसाइट का उपयोग नहीं कर सकते।
  • ऑनलाइन काम न होने पर ऑफलाइन कार्य को करना होता है जिससे आपके समय की हानि होती है।
  • गलत ट्रांजेक्शन होने पर पैसों का नुकसान हो सकता है।

OTP का साझा होना :

यदि आपका ओटीपी किसी गलत व्यक्ति के साथ साझा होता है तो आपको निम्न तरह की परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है।

जैसे ओटीपी के अनुसार आपकी वेबसाइड या ऐप हैक होने की सम्भावना बढ़ सकती है और ओटीपी का गलत उपयोग आपके आने वाले भविष्य में भी गंभीरता से असर डाल सकता है क्यूंकि आपकी आईडी से आपके द्वारा इस्तेमाल होने वाली सोशल मिडिया का गलत उपयोग होना, ओटीपी के द्वारा निजी जानकारी का साझा होना आदि।

OTP  की मान्यता :

आइये इस पैराग्राफ के ज़रिए OTP की समय सीमा की चर्चा करते है और जानते है की OTP को इस्तेमाल करने की सीमा कब तक होती है।

एक OTP सन्देश को आप एक समय के साथ-साथ आपको 30 सेकंड से लेकर 60 सेकेंड तक उपयोग में ला सकते है। यदि समय सीमा खत्म हो जाता है तो दुबारा इस सन्देश का उपयोग नहीं कर सकते।

इन्हे भी पढ़ें :

अंतिम शब्द :

मैने आपको इस कंटेंट के ज़रिय OTP से जुडी सभी जानकारी से परिचित कराने का प्रयत्न किया है जिससे आपको OTP सन्देश को बेहतर तरीके से जानने का मौका मिले और OTP को दूसरो से साझा करने से पहले उसे परखें।

यदि आपको दी गई जानकारी सही लगे तो अपने दोस्तों को शेयर जरूर करें।

admin

नमस्कार दोस्तों मेरा नाम शिव है Help Guide India ब्लॉग पर आपका स्वागत है यहाँ पर आपको Employee Help, Study, Internet, Technical, Computer नॉलेज से सम्बन्धित सभी जानकारी हिंदी भाषा मिलेंगी, Help Guide India वेबसाइट का एक ही मकसद है, आपकी मदत करने में आपकी मदत करता है इसलिए इस Hindi Blog से जुड़े रहने के लिए हमारे यूट्यूब चैनल व फेसबुक को फॉलो करें ।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Scroll to top
error: Content is protected !!