Bouncer कैसे बने ? क्षेत्र, सैलरी, योग्यता, शिक्षा, डाइट

Bouncer

आज में इस पेज के माध्यम आपको Bouncer की जानकारी को साझा करूँगा।

यह जानकारी उनके लिए अधिक महत्व रखती है जिनका सपना बाउंसर बनने का है और वे बाउंसर फील्ड में अपना भविष्य बनाना चाहते है तथा उनकी रूचि बाउंसर से जुड़ी जानकारी को प्राप्त करने में होती है जिससे वे बाउंसर की किसी भी जानकारी से वंचित न रह सके इन्हीं सभी बातों को ध्यान में रखते हुए में आपके लिए यह जानकारी को जुटा कर लाया हूँ मुझे पूर्ण विश्वास है यह आर्टिकल आपके बाउंसर से जुड़ी सभी जानकारी पर खरा उतरेगा।

बाउंसर किसे कहते है ?

आइये इस पैराग्राफ के माध्यम से हम Bouncer की उस परिभाषा को जानते है जो की बाउंसर शब्द को पूरा करती है वह स्वास्थ्य तथा शारीरिक बल जो की शारीरिक योग्यताओं के साथ मानसिक योग्यताओं में भी परिपूर्ण हो हिंसा के लिए झुण्ड भयभीत होकर अपनी गलत प्रतिक्रियाओं को करने से डरते है एवं जो देश तथा दिग्गज लोगों को समय आने आकर्षण प्रदान करते जिनके सम्पूर्ण कार्यों का वर्णन नीचे विस्तार से किया है इसी तरह के कार्यों को करने वाले व्यक्ति को बाउंसर की उपाधि दी जाती है।

Bouncer कैसे बने ?

यदि आप बाउंसर बनना चाहते है तो आपको Bouncer का प्रशिक्षण प्राप्त करना चाहिए यह तभी संभव हो सकता है जब आप बाउंसर रह चुके व्यक्ति से उसकी सम्पूर्ण जानकारी को प्राप्त करते है तथा बाउंसर बॉडी यानी शरीर बनाने के लिए व्यायाम शाला अर्थात gym संस्थान की आवश्यकता होती है।

जहां आपको उन एक्सरसाइज का प्रशिक्षण प्राप्त होता है जिससे आपका शरीर ठोस और मजबूत बने बाउंसर के अभिभावक को बाउंसर के प्रशिक्षण को प्राप्त करते समय बहुत से बातों का ध्यान रखना चाहिए जिससे उनके शरीर को हानि न पहुंचने पायें यानी बाउंसर का प्रशिक्षण कभी भी अशिक्षित बाउंसर से प्राप्त न करे इससे आपके शरीर को हानि पहुंच सकती है।

घर में अकेले कभी भी बाउंसर एक्सरसाइज नहीं करनी चाहिए यह खतरनाक होता है इसके साथ-साथ आपने खान-पान का ज़्यादा से ज़्यादा ध्यान रखे क्यूंकि बाउन्सर एक्ससाइज बहुत ही मेहनत्ती और बल की अपेक्षा करती है।

Bouncer की नौकरी क्षेत्र:

  • बार सुरक्षा प्रदान करने के लिए।
  • नाईट क्लब में किसी से छेड़-चाड न होने पाए इसलिए बाउंसर की आवश्यकता होती है।
  • होटल में गेट पैर चेकिंग के लिए तैनाती जिससे बड़े-बड़े अपराधों से बचा जाए पर्सनल सुरक्षा बाउंसर की ड्यूटी।
  • Vip ड्यूटी क्यूंकि अभिनेताओं के आस-पास हो रही गतिविधियों पर नज़र रखना।
  • किसी भी प्रकार की भव्य रैली में Bouncer की तैनाती का होना।
  • G ym में एक कोच के पद पर नौकरी का स्थान प्राप्त होता है।

बाउंसर के लिए योग्यता :

  • आपके शरीर में किसी भी तरह की अंदरूनी चोट न लगी हो।
  • मानसिक स्वास्थ्य बेहतर हो।
  • बाउंसर के लिए मांगी गई सभी योग्यताओं से परिपक्व होना।
  • शांत दिमाग का होना जिससे भीड़ में किसी से गुस्सा न होना।
  • कार्य के प्रति बेहतर ईमानदारी।
  • बढ़ी हुई भीड़ को काबू में कर पाना।

बाउंसर की शिक्षा :

Bouncer का पद प्राप्त करने में शिक्षा की अधिक आवश्यकता नहीं होती है यानी यदि आप 8,9,10 तथा 12 कक्षा भी उत्तीर्ण कर चुके है उसके बावजूद भी आप बाउंसर बनने का आपने सपना पूर्ण कर सकते है।

हालांकि आपको Bouncer से जुड़ी उन बातों का ज्ञान होना आवश्यक है जो की बाउंसर के कार्य क्षेत्र में काम आता है जिसका प्रशिक्षण आपको Gym में ही प्रदान होता है यानी आपको सिर्फ Gym का पूरा प्रशिक्षण लेना होगा।

बाउंसर का कार्य :

बाउंसर एक वह व्यवसाय है जिसकी आवश्यकता कई क्षेत्र में होती है।

ये वे स्थान है जहां पर दुर्घटना होने अधिक चांस होते है जैसे होटल में Bouncer को होटल के बहुरि गेट पर खड़ा किया जाता है उसका कार्य लोगों की जाँच लेना दूसरा कार्य अभिनेता तथा अभिनेत्री को रक्षण देना जिससे उन्हें किसी भी तरह का खतरा न पहुंचने पाए तीसरा कार्य होने वाले दंगो को रोकना और लड़ाई को किसी भी हालत में सुलझाना आदि कार्य Bouncer के होते है।

बाउंसर के लिए डाइट :

जैसा की हम जानते है Bouncer का कार्य बहुत ही बल वाला होता है उसके अनुसार बाउंसर की डाइट बहुत ही मजबूत होनी चाहिए जिससे बाउंसर को काम करने में कमजोरी का सामना न करना पड़े।

Bouncer की पूर्ण डाइट में मीट, जूस, फल ,ओट्स, दलीय,रोटियां कैलरी के मुताबिक, प्रोटीन सब्जियाँ इत्यादि चीजे एक बाउंसर डाइट को पूरा करती है।

बाउंसर की सैलरी:

जैसा की हम जानते है बाउंसर का कार्य सिर्फ सरक्षण प्रदान करना नहीं होता है बल्कि उनके कार्य निम्न क्षेत्रों में होते है जैसे Bouncer के लिए शिक्षा देना, रक्षण, देश में आयोजित होने वाले बड़े-बड़े आयोजन जिसमे पूरी सुरक्षा का भार बाउंसर के जुम्मे होता है इन्ही बातों को ध्यान में रखते हुए इनको मासिक आय दिया जाता है हलाकि कई स्थानों में आय हाथ प्राप्त होती इसको 30000 से 60000 रुपय की सैलरी दी जाती है क्यूंकि यह जोखिम का कार्य होता है।

इन्हे भी पढ़ें :

अंतिम शब्द :

आशा करता हूँ मेरे द्वारा लिखा यह आर्टिकल आपके बाउंसर बनने के सपने में चार चाँद लगा देगा तथा इसके अलावा आपको बाउंसर की सभी जानकारी से परिचित कराएगा जो आपको ज्ञात होनी चाहिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to top
error: Content is protected !!