Manager कैसे बनें, शिक्षा, कार्य, योग्यता, सैलरी, इंटरव्यू एवं समस्त जानकारी

Manager

इस पेज के आर्टिकल के माध्यम से हमने Manager केसे बनें और उससे जुड़ी समस्त जानकारी आपको शेयर करेंगे।

जिससे आप भविष्य में यदि मैनेजर की पोस्ट हासिल करना चाहते हों तो आपको उससे जुड़ी सभी बातों का पता हो और आप इसके बारे में अपने सगे सम्बन्धियों को भी सलाह दे सकते है।

मैनेजर क्या कौन सी पोस्ट होती है ?

Manager की एक ऐसी पोस्ट होती है इस पोस्ट के माध्यम से कम्पनी के बड़े- बड़े फैसले तय किए जाते हैं और यह अपने रिस्क पर कम्पनी से संबंधित कोई भी निर्णय कर सकता है यह पोस्ट हर प्राईवेट कम्पनी तथा सरकारी कार्यालयों में भी होती है और यह पोस्ट हर फील्ड में उपस्थित होनी चाहिए।

मैनेजर बनने के लिए फील्ड:

मैनेजर बनने के लिए बहुत से विभाग है –

  • हॉटल मैनेजर
  • बैंक मैनेजर
  • कम्पनी मैनेजर
  • हॉस्टल मैनेजर इत्यादि।

Manager के कार्य:

एक ज़िम्मेदार मैनेजर होने के नाते इसके भिन्न प्रकार से कार्य होते हैं जैसे:-

  1. अपने बिजनेस को और ऊपर ले जाना।
  2. कम्पनी की राशि का सही जगह इन्वेस्ट करना और जिससे कंपनी को लाभ मिले।
  3. उसके नीचे कार्य कर रहें व्यक्तियों को सभी तरह की सुविधा उपलब्ध कराना।
  4. कम्पनी के एकाउंट का ध्यान रखना।
  5. कम्पनी के दस्तावेज पर ध्यान से पढ़ और सोच समझ कर कम्पनी के हित में काम करना।
  6. हफ़्ते में दो से तीन दिन पुरी कम्पनी का जायेजा लेना आदि।

मैनेजर की उम्र :

Manager के लिए उम्र की कोई भी मांग नहीं होती है परन्तु भारत के संविधान के अनुसार अगर आप 18 या इस उम्र के ऊपर व्यक्ति है तब ही काम कर सकते है वरना आपकी एक गलती की वजह से वह कम्पनी बंद हो सकती है और जेल के साथ-साथ जुर्माना भी भरना पड़ सकता है।

मैनेजर बनने के लिए शिक्षा :

Manager बनने के लिए यह सुनिश्चित होना चाहिए आप किस फील्ड में मैनेजर पद प्राप्त करना चाहते हैं।

अगर आप किसी प्राइवेट लिमिटेड में मैनेजर बनना चाहते हैं तो आपका ग्रेजुएट होना तथा उनके पास मास्टर डिग्री अनिवार्य है।

इसके अलावा अगर अपने MBA, MA, MCA, M.Com भी किया हो तब आप एक मैनेजर के पद के लिए शिक्षित व्यक्ति है और सिर्फ प्राईवेट कंपनी में नहीं बल्कि सभी फील्ड के लिए योग्य है।

मैनेजर के लिए योग्यतायें :

  1. अच्छी लीडशिप की योग्यता।
  2. 2 से 3 साल का काम करने का अनुभव हो।
  3. एम्प्लॉय के बीच आपस में मन भेद को सुलझाना।
  4. कार्य रथ कर्मचारियों को कार्य के प्रति प्रोत्साहित करना।
  5. बिजनेश करने के अलग तरह की स्किल का ज्ञान होना।
  6. बात- चित करने का तरीका चाहें वह हिंदी हो या अंग्रेज़ी।
  7. ड्रेसिंग सेंस यानि कपड़ो का पहनावा अच्छा हो जिससे आकर्षण बढ़े।

मैनेजर पद की सैलरी:

Manager की सैलरी उसके काम और एक्सपीरिएंस के अलावा उसके मेनेजमेंट पर भी निर्भर करती है और यह सब खूबी आप में है तो आपकी सैलरी 30 से 50  हजार रुपए प्रति माह हो सकती है और सरकारी मैनेजर की सैलरी 40000 से 45000 हजार होती है।

मैनेजर पद को मिलने वाले लाभ :

  1. मैनेजर को मिलने वाली रिस्पेक्ट।
  2. अन्य कर्मचारियों से ज़्यादा सुख सुविधाओ का लाभ।
  3. मैनेजर का कम्पनी द्वारा पर्सनल असिस्टेंट।
  4. ट्रेवल के लिए मलने वाला भत्ता अन्य सुविधाएं।

मैनेजर की पोस्ट के लिए इंटरव्यू :

मैनेजर इंटरव्यू में आप की फील्ड के Manager सम्बन्धित प्रश्न किए जाते हैं और यह भी सुनिश्चित किया जाता हैं आप मैनेजर की पोस्ट के लिए समृद्ध है या नहीं मैनेजर के इंटरव्यू में 3 से 4 राउंड होते है जिसमें अलग अलग प्रश्न किए जाते हैं जैसे प्रोफेसनल, एक्सपीरिएंस और आप सैलरी की कितनी एक्सपेक्टेशन रखते हैं इत्यादि।

इन्हें भी पढ़ें :

अंतिम शब्द :

मैनेजर से जुड़ी जानकारी आपके लिए मददगार होगी तथा यह आपकों Manager बनने के लिए परिपूर्ण करेगी जिससे आप आसानी से मैनेजर पद को हासिल कर सकेंगे।

धन्यवाद।

यदि आपको हमारी दी गई जानकारी सही लगे तो हमारे Youtube चैनल को सब्सक्राइब करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to top
error: Content is protected !!